Film review: Jolly LL.B 2

Film: Jolly ll.b 2

Release date: 10 Feb 2016

Cast: Akshay kumar, Huma qureshi, Saurabh shukla, Annu kapoor

Story: Subhash kapoor

Directed by: Subhash kapoor

Language: Hindi


कहानी-

कानपुर के रहने वाले जगदीश्वर मिश्रा उर्फ़ जॉली (अक्षय कुमार) को जब लखनऊ में खुद का चैम्बर खोलने के लिए दो लाख रुपए की जरुरत पड़ती है तब वह महीनों से इंसाफ की आश लगाएं बैठी हिना सिद्दीकी (सैयामी गुप्ता) को मदद का झूठा दिलासा देकर उससे पैसे हड़प लेता है। हिना को जब इस बात का पता चलता है तो वह आत्महत्या कर लेती है। अपनी गलती का प्रयाश्चित करने के लिए जॉली, हिना के पति इक़बाल कासिम (मानव कौल) के एनकाउंटर वाले केस को फिर से कोर्ट तक लेकर जाता है। कोर्ट में उसका सामना होता है लखनऊ के नामी वकील प्रमोद माथुर (अन्नू कपूर) से। भ्रष्ट पुलिस अधिकारी सूर्यवीर सिंह (इनामुल्हक़) और उसके वकील प्रमोद माथुर से लड़ते हुए जॉली उनके खिलाफ सबूत इक्कठे करने की पुरजोर कोशिश करता है। क्या जॉली इस केस में हिना और उसके परिवार को इन्साफ दिला पाएगा? यह जानने के लिए आपको सिनेमा घर तक जाने की तकलीफ़ उठानी पड़ेगी।

Review-

एक सही लेंथ की फिल्म कम समय में छोटी-छोटी चीजों की तरफ आपका ध्यान खींचने की कोशिश करती है। घर में खाना बनाते हुए अक्षय कुमार और बनारस में हिन्दू एवं मुस्लिम महिलाओं के बीच क्रिकेट मैच जैसे दृश्य महिलाओं की बदलती तस्वीर दर्शाने की कोशिश करते है। देश में कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठते नज़र आते है। फिल्म के एक दृश्य में जब सौरभ शुक्ला अदालतों की दयनीय स्थिति बताते हैं तो लोग निश्चित रूप से सोचने पर मजबूर हो जाते हैं।

निर्देशन- सुभाष कपूर हर बार अलग तरह का मिश्रण लेकर आते हैं। उनकी पिछली फिल्मों ने उन्हें कई बड़ी उपलब्धियां हासिल कराई हैं। जिसमें फँस गये रे ओबामा और जॉली एल. एल. बी  जैसी फिल्में शामिल हैं। उनकी पिछली फिल्मों की तरह इस फिल्म में भी एक अच्छा निर्देशन देखने को मिलता है। फिल्म को और भी ख़ास बनाते हैं वह छोटे-छोटे किरदार जिन्होंने बहुत ही कम समय में अच्छा अभिनय किया है। सुभाष कपूर निश्चित रूप से तारीफ के हक़दार हैं।

पटकथा- इस फिल्म की कहानी इसकी पहली कड़ी जॉली एल.एल.बी की तरह ही रखी गयी है। कहानी में कुछ बड़े बदलाव देखने को नहीं मिले। हालाँकि मनोरंजन के मामले में कहानी बहुत सफल नज़र आती है। अच्छी कहानी, बेहतर संवाद और उससे भी अच्छा स्क्रीनप्ले फिल्म को उसकी पिछली कड़ी की तरह सफलता दिला सकता है।

अभिनय-अक्षय कुमार जॉली के रंग में पूरी तरह रंगे नज़र आए। वह इस तरह की भूमिका निभाने में बहुत सक्षम हैं अन्नू कपूर ने भी अच्छे अभिनय का नज़ारा दिखाया। हुमा कुरेशी भी जॉली का पूरा साथ देतीं नज़र आतीं हैं। एक किरदार जिसने सबका दिल जीत लिया वह हैं सौरभ शुक्ला। पिछली कड़ी की तरह इस बार भी उन्होंने ठहाके लगाने पर मजबूर कर दिया। अन्य किरदार जैसे सैयामी गुप्ता, मानव कॉल और संजय मिश्रा ने भी अपने हिस्से को अच्छे तरीके से निभाया है। 

संगीत- संगीत ठीक है। बावरा मन, गो पागल पहले ही हिट हो चुके हैं। अन्य गाने भी ठीक हैं। 

फिल्म किसी भी मामले में कमजोर नज़र नहीं आती। जब दर्शक इस तरह की फिल्म देखने बैठते हैं तो वह सिर्फ मनोरंजन मांगते हैं। और इस बात का पूरा ध्यान रखकर फिल्म बनाई गई है। फिल्म निश्चित तौर पर देखने लायक है।

Rising stars- 4/5

5 thoughts on “Film review: Jolly LL.B 2

Add yours

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑

%d bloggers like this: